Saturday, 27 February 2021

1339::/cck::

CBSE 12th Result 2018: राहुल ने हासिल किए 88% अंक, जज्बे के आगे हार गई दृष्टिहीनता..... 

::/introtext::
::fulltext::

इरादे बुलंद हो तो शारीरिक अक्षमता भी आड़े नहीं आती। यह साबित किया है दयानंद विहार स्थित शहीद राजपाल डीएवी पब्लिक स्कूल के बारहवीं के छात्र राहुल जैन ने।

नई दिल्ली (स्वदेश कुमार)। इरादे बुलंद हो तो शारीरिक अक्षमता भी आड़े नहीं आती। यह साबित किया है दयानंद विहार स्थित शहीद राजपाल डीएवी पब्लिक स्कूल के 12वीं के छात्र राहुल जैन ने। दृष्टिहीन राहुल ने 12वीं की परीक्षा में 88 फीसद अंक प्राप्त किए। खास बात यह है कि बिजनेस स्टडीज में उन्हें 99 अंक मिले। राहुल ने लिपिक की मदद से परीक्षा दी थी। लक्ष्मी नगर के कृष्णकुंज में रहने वाले राहुल जन्मजात दृष्टिहीन हैं। पिता मधुप जैन किताब-कॉपी की दुकान चलाते हैं। मां नीरू जैन गृहिणी हैं। राहुल का कहना है कि बचपन से माता-पिता ने यही बताया कि उसके पास सुनने और समझने की क्षमता बहुत है। इसलिए आंखों पर ध्यान नहीं दो। इसके बाद उन्होंने इसे जीवन में आत्मसात कर लिया। राहुल बताते हैं कि उन्हें पढ़ाई में सामान्य बच्चों से थोड़ी अधिक मेहनत करनी पड़ती है, लेकिन वह इसके लिए तैयार रहते हैं। 10वीं में भी उन्हें 10 सीजीपीए आया था और 12वीं की शुरुआत में ही उन्होंने तय कर लिया था कि परीक्षा में अच्छे अंक लाने हैं। इसके लिए तैयारी भी उसी समय से शुरू कर दी थी। वह अब बीकॉम की पढ़ाई करने के बाद आइटी क्षेत्र में जाना चाहते हैं। वहीं, मां नीरू ने बताया कि राहुल देर रात तक साफ्टवेयर की मदद से कंप्यूटर पर पढ़ाई करता था। इसी मेहनत का यह प्रतिफल मिला है। वह अपने बेटे को दूसरों से अधिक मजबूत मानती हैं। बड़ी बहन ने भी दिया साथ राहुल ने बताया कि उनकी बड़ी बहन नेहा जैन ने उनकी सभी किताबों को टाइप करके साफ्टवेयर में डाल दिया था। वह कंप्यूटर पर इसी साफ्टवेयर पर साउंड (ध्वनि) के जरिये सुनकर पढ़ाई करते थे। उनकी सफलता में माता-पिता और स्कूल के साथ उनकी बहन का भी काफी योगदान रहा है।

स्कूल ने बढ़ाया हौसला

राहुल बताते हैं कि स्कूल में उन पर काफी ध्यान दिया गया। छोटी कक्षा में थे तो उन्हें ऐसी किताबें दी गईं, जिनमें बड़े-बड़े अक्षर थे और जिन्हें वह छूकर पढ़ते थे। स्कूल की प्रधानाचार्या रेनू लारोइया ने एक बार उनसे कहा था कि तुम हम सभी के लिए प्रेरणास्त्रोत हो। इससे भी उनका उत्साह बढ़ा।

::/fulltext::

1304::/cck::

जाह्नवी कपूर को देख टूट पड़े फैन्स....

::/introtext::
::fulltext::

श्रीदेवी और बोनी कपूर की बेटी जाह्नवी कपूर की कोई भी फिल्म अभी तक रिलीज नहीं हुई है लेकिन उनकी लोकप्रियता अपने चरम पर पहुंच चुकी है.

खास बातें

  1. श्रीदेवी की बेटी हैं जाह्नवी कपूर
  2. मराठी फिल्म के रीमेक से कर रही हैं डेब्यू
  3. ईशान खट्टर हैं उनके हीरो

नई दिल्ली: श्रीदेवी और बोनी कपूर की बेटी जाह्नवी कपूर की कोई भी फिल्म अभी तक रिलीज नहीं हुई है लेकिन उनकी लोकप्रियता अपने चरम पर पहुंच चुकी है. जाह्नवी जहां भी जाती हैं फैन्स की भीड़ उन्हें देखने के लिए टूट पड़ती है. ऐसा ही कुछ हाल ही में हुआ जब फैन्स की भीड़ जाह्नवी कपूर पर टूट पड़ी. वे बांद्रा के एक रेस्तरां से निकल रही थीं. तभी उनके नन्हे फैन्स की भीड़ वहां खड़ी उनका इंतजार कर रही थी. जाह्नवी जैसे ही रेस्तरां से बाहर निकली तो ये नन्हे फैन्स नाचने लगे, और एकदम से सबने उन्हें घेर लिया. यही नहीं कई बच्चों ने तो उनका हाथ तक पकड़ लिया. 

लेकिन जाह्नवी कपूर ने अपने चेहरे की मुस्कान नहीं छोड़ी और वे मुस्कराती रहीं. वैसे भी जाह्नवी कपूर मराठी फिल्म 'सैराट' के हिंदी रीमेक 'धड़क' के साथ बॉलीवुड में कदम रखने जा रही हैं और हर किसी की निगाहें इस फिल्म पर टिकी हुई हैं. 'धड़क' 20 जुलाई को बड़े पर्दे पर रिलीज होगी. करण जौहर के  धर्मा प्रोडक्शन और जी स्टूडियो मिलकर फिल्म को बना रहे हैं. टिप्पणियां जाह्नवी की यह पहली फिल्म है, जबकि उनके को-स्टार ईशान खट्टर की पहली फिल्म ईरानी फिल्मकार माजित मजीदी की 'बियॉन्ड द क्लॉउड्स' है जो आज रिलीज हुई है. ईशान खट्टर शाहिद कपूर के सौतेले भाई हैं. 'धड़क' की शूटिंग पिछले साल 1 दिसंबर को  शुरू हुई थी. जाह्नवी ने इस फिल्म के लिए खूब मेहनत की है और ईशान खट्टर भी इश फिल्म को लेकर सुर्खियों में हैं. 

::/fulltext::

1291::/cck::

जाबांज सिख पुलिसकर्मी ने मुस्लिम युवक को भीड़ से बचाया.....

::/introtext::
::fulltext::

नैनीताल जिले के रामनगर में मुस्लिम युवक को आक्रोशित भीड़ के चंगुल से उत्तराखंड के एक जाबांज सिख पुलिसकर्मी द्वारा बचाये जाने का वीडियो वायरल हुआ है.

खास बातें

  1. सिख पुलिसकर्मी ने बचाई मुस्लिम युवक की जान
  2. सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो
  3. पुलिसकर्मी की सोशल मीडिया पर हो रही तारीफ

हरादून: नैनीताल जिले के रामनगर में एक मंदिर के पास हिंदू लड़की के साथ कथित रूप से आपत्तिजनक स्थिति में मिले मुस्लिम युवक को आक्रोशित भीड़ के चंगुल से उत्तराखंड के एक जाबांज सिख पुलिसकर्मी द्वारा बचाये जाने का वीडियो वायरल हुआ है. अपर पुलिस महानिदेशक (कानून और व्यवस्था) अशोक कुमार ने बताया कि यह घटना मंगलवार की है, जब मुस्लिम युवक हिंदू लड़की से मिलने रामनगर से करीब 15 किलोमीटर दूर ​गर्जियादेवी मंदिर गया था. सोशल मीडिया पर सिख पुलिसकर्मी की जमकर तारीफ हो रही है. उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों को इस बात की भनक लग गई और वे प्रेमी युगल को सबक सिखाने के लिए मंदिर पहुंच गए. क्षेत्र में हंगामा होने की सूचना मिलने पर उपनिरीक्षक गगनदीप सिंह मौके पर पहुंचे. वहां, हिंदू समुदाय के उग्र हो गए लोग लड़का-लड़की के ​कथित रूप से आपत्तिजनक हालत में मिलने का आरोप लगाते उन पर हमले की तैयारी कर रहे थे. सोशल मीडिया पर इस सिख पुलिसकर्मी के साहस की जमकर तारीफ हो रही है.

कुमार ने कहा कि उपनिरीक्षक सिंह तुरंत प्रेमी जोड़े की मदद के लिए दौड़े और उन्होंने मुस्लिम युवक को अपने पास खींच लिया. हालांकि, इस दौरान पुलिसकर्मी को भीड़ की धक्का-मुक्की का भी सामना करना पड़ा. उन्होंने बताया कि बाद में भीड़ तितर-बितर हो गई और युगल को पुलिस थाने लाया गया जहां से उन्हें उनके परिवारों को सौंप दिया गया. पुलिस अधिकारी ने बताया कि वीडियो में दिखाई दे रहे पांच व्यक्तियों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और उन्हें पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है.गगनदीप सिंह को बहादुरी के कृत्य के लिए 2500 रुपये का इनाम घोषित किया गया है. उन्होंने कहा कि वीडियो का इस्तेमाल सांप्रदायिक भावनाओं को भड़काने के लिए नहीं होना चाहिए. सोशल मीडिया पर बहादुर पुलिसकर्मी को जमकर तारीफ मिल रही है.

::/fulltext::

 Divya Chhattisgarh

 

City Office :-  Infront of Raj Talkies, Block - B1, 2nd Floor,

                              Bombey Market, GE Road, Raipur 492001

Address     :-  Block - 03/40 Shankar Nagar, Sarhad colony, Raipur { C.G.} 492007

Contact      :- +91 90099-91052, +91 79873-54738

Email          :- Divyachhattisgarh@gmail.com

Visit Counter

Total498919

Visitor Info

  • IP: 54.236.62.49
  • Browser: Unknown
  • Browser Version:
  • Operating System: Unknown

Who Is Online

1
Online

2021-02-27